Blog शुरू करने और Blogger बनने से पहले जाने 11 जरुरी बातें।

Blog Suru karne se pahale jaane 11 jaruri baaten


आज के दौर में Blog Suru karne और Blogger banane वाला रास्ता आसान नहीं है। यदि आप एक कामयाब और बेहतर Blog बनाते हैं, तो अपने blogging से बहुत पैसा कमा सकते हैं। पर आपके blogging का सही उद्देश्य और मकसद जरूर पता होना चाहिए, तभी आप blog suru करके एक कामयाब Blogger बन सकते हैं।

पर मैं इतना हीं कहना चाहूँगा कि blogging करना और Blogger बनना आसान काम नहीं  है। Bloggerटम्बलरवर्डप्रेस आदि पर आप फ्री में जल्दी हीं blogging शुरू कर सकते हैं, पर यदि आप अपने Blog को कामयाब और सफल बनाना चाहते हैं, तो आपको बहुत मेहनत करना पड़ेगा और पैसे भी खर्च करने पड़ेंगे। आप तो अच्छी तरह से जानते होंगे कि फ्री में कुछ भी मिलना सम्भव नहीं हैं। फ्री के blogging प्लेटफार्म को आप ज्यादा आगे तक नहीं ले जा सकते हैं।

Blogging में बहुत सारा पैसा है, ये सोचकर हर कोई Blogger बनाना चाहेगा। पर मैंने आपको पहले हीं बता दिया है कि blogging करना और Blogger बनना बहुत हीं मुश्किल और मेहनत वाला काम होता है। दूसरे कामों की तरह blogging में भी बहुत मेहनत लगती हैं। पर जो इस बात को बिना समझे blogging शुरू कर लेते हैं, वो ज्यादा देर तक blogging में नहीं टिक पाते हैं। कुछ दिनों बाद हीं उनका blogging कैरियर समाप्त हो जाता है, क्योंकि वे केवल पैसे के बारे में सोचकर हीं blogging की दुनिया में आते हैं। इसलिए जब जल्दी पैसा नहीं आता है, तो वे निराश हो जाते हैं और Blogging छोड़ देते हैं। blogging से पैसा कमाना सबसे मुश्किल कामों में से एक है, जिसे नए Blogger बहुत सहज मान लेते हैं।

तो इस पोस्ट में हम यही जानने कि कोशिश करेंगे कि blog suru karne से पहले हमें किन – किन बातों के बारे में विशेष ध्यान देना चाहिए।

01. Blogger बनना जल्दी पैसे कमाने का रास्ता नहीं।

दूसरे blogging करके या blogger बनके लाखों और करोड़ो कमा रहे हैं। ये सोच कर आप भी यदि blogging में कूद जाते हैं, तो सच मानिए आपका फेल होना और कुछ दिनों बाद blogging का बुखार कम हो जाना तय है। ज्यादा पैसा देखकर blogging कैरियर को चुन लेना, आपको ज्यादा आगे तक नहीं ले जा सकता है।

Blog suru karne से जल्दी पैसा नहीं आता है।

Blog suru karne से पहले आपको ये जानना चाहिए कि आप blogging क्यों करना चाहते हैं। यदि इसका जबाब केवल पैसा है, तो सच मानिए आपको blogging नहीं चुनना चाहिए। क्योंकि blogging करके ऑनलाइन पैसा कमाना आसान होता, तो हर कोई Blogger बनके खूब पैसा पीटने लगता।

पर इससे पैसा कमाने के लिए आपके Blog का एक बहुत बड़ा रीडर ग्रुप होना चाहिए और हर रोज हजारों ट्रैफिक भी आना चाहिए, तभी आप blogging से पैसा कमा सकते हैं। पर किसी भी blog का ज्यादा रीडर और ज्यादा ट्रैफिक केवल पैसा कमाने के उद्देश्य से नहीं बढ़ाया जा सकता हैं।

किसी भी Blog पर ज्यादा रीडर और अच्छे ट्रैफिक बढ़ने में समय और कठिन मेहनत की आवश्यकता पड़ती है। जब आप अपने blog पर पहला आर्टिकल पोस्ट करते हैं, तो इसे पढ़ने वाला कोई नहीं होता है। दूसरा आर्टिकल पोस्ट करते हैं, तो इसे भी पढ़ने वाला कोई नहीं होता है। इसी तरह से तीसरा, चौथा, पाँचवाँ, एक के बाद एक आर्टिकल पोस्ट करते जाते हैं, पर पढ़ने वाले बहुत कम मिलते हैं।

ये सब देख के आप निराश होने लगते हैं, पर कोई भी नया Blog suru karne से पहले ऐसा हीं होता है। एक सफल Blogger को ऐसे दौर से निकलना पड़ता है। जल्दी अच्छे परिणाम की उम्मीद नहीं कर सकते हैं।

एक कामयाब Blogger बहुत धैर्य रखकर लम्बे समय तक अपने Blog पर काम करते रहता है। क्योंकि वह जनता है कि blogging में बहुत मेहनत है, तो भी वह अपने आप को इसके लायक समझता हैं और अपने blogging को नहीं छोड़ता है।

02. Blogging करना फ्री नहीं हैं।

BloggerWordPress.comटम्बलर,  मेडियम आदि से आप मुफ्त में blogging कर सकते हैं, इन्हें इस्तेमाल करना भी बहुत आसान है। पर फ्री blogging प्लेटफार्म पर बहुत से limitations हैं। फ्री blogging प्लेटफार्म जैसे कि गूगल का blogger, यह फ्री तो है पर इस पर आपका नियंत्रण नहीं होता है। आपको बिना बताए जब चाहे गूगल आपके ब्लॉग को नष्ट भी कर सकता है। इसका मतलब ये है कि ऐसे Blog पर कुछ रुकावटें और नियंत्रण का आभाव होता है।

अगर आप अपने Blog का बहुत अच्छा कस्टम डिज़ाइन चाहते हैं, ज्यादा स्टोरेज चाहते हैं, पैसे कमाने का ज्यादा अवसर चाहते हैं, तो वर्डप्रेस का self hosted Blog बहुत हीं बेहतर ऑप्शन है। वर्डप्रेस के कसी भी प्रीमियम थीम को खरीद कर आप अपने ब्लॉग को बेहतर डिज़ाइन कर सकते हैं।

आप डोमेन और होस्टिंग को खरीद कर self hosted WordPress Blog को आसानी से इनस्टॉल कर सकते हैं। इसके साथ हीं साथ आप अपने Blog के लिए एक प्रीमियम थीम भी खरीद सकते हैं। कुछ थीम को केवल एक बार पैसे देकर खरीद सकते हैं। जबकि कुछ ऐसे भी थीम हैं जिन्हें हार साल पैसे देने पड़ते हैं। ये सब खरीदने में 5000 से 10000 के बिच खर्च हो सकता है। डोमेन और होस्टिंग के लिए हर साल पे करना पड़ता है।

03. Blog suru karne से पहले उद्देश्य जानना जरुरी

सबसे पहले अपने blogging का उद्देश्य जान लेना चाहिए कि आप blogging किस लिए करना चाहते हैं। क्या आप किसी बिशेष बिज़नेस को blogging के माधयम से प्रमोट करना चाहते हैं। blogging के द्वारा महत्वपूर्ण सूचनाओं के बारे में बताना चाहते हैं। या फिर आपका Blog केवल आपके व्यक्तिगत विचार व्यक्त करने का स्थान है
। तो ऐसे प्रश्नों के जबाब को blog suru karne से पहले हीं ढूँढ़ लेना चाहिए। क्योंकि ऐसे सवाल आपके blogging के सही उद्देश्य को समझने में मदद करेंगे।

क्या Blogging को फुल टाइम कैरियर बनाना चाहते हैं? क्या इससे पैसा कमाना चाहते हैं? क्या हर दिन blog पर पोस्ट करना चाहते हैं? एक सप्ताह में कितना आर्टिकल पोस्ट करना चाहते हैं? अपने blog पर कितना विज़िटर्स चाहते हैं?

ऐसे प्रश्न blogging के सही उद्देश्य को निर्धारित करते हैं। blogging के बारे में कितना सीरिअस हैं, इसके बारे में जान लेते हैं। इसलिए सबसे पहले blogging का सही उद्देश्य आपके blogging कैरियर को बेहतर करने में मदद करता है।

04. तय करें blogging किस चीज के बारे में करना चाहते है।

Blog suru karne से पहले हर Blogger को सबसे पहले ये जानना पड़ता है कि वह किस चीज के बारे में लिखना चाहता है। Blog के एक विशिष्ट विषय पर ध्यान देना आवश्यक होता है। पहले से बहुत सारे blog मौजूद हैं। यदि आप अपने blog के लिए अपने पसंद के अनुसार एक अच्छा और यूनिक विषय नहीं चुनते हैं, तो आपक blog ज्यादा आगे तक नहीं जा पाएगा।

अपने Blog के मेन टॉपिक को इस तरह से चुनिए कि वह भीड़ में सबसे अलग हो। ऐसे विषय को चुनिए जो आपको बेहद पसंद हो और जिसके बारे में आपको ज्यादा नॉलेज हो। तभी उस टॉपिक पर आप ज्यादा और सटीक कॉन्टेंट लिख पाएंगे। अगर आप अपने blog के लिए एक सही टॉपिक चुन लेते हैं, तो उसी पर लिखते रहें। blog के विषय को ज्यादा न फैलाएँ।

Blog suru karne से पहले टॉपिक जानिए।

यदि आप अपने Blog से पैसा कमाना चाहते हैं और सर्च इंजन में बेहतर रैंक कराना चाहते हैं। तो अपने blog के टॉपिक को चुनने से पहले बिस्तृत कीवर्ड रिसर्च के साथ हीं साथ ब्लॉग के विशिष्ट टॉपिक के बारे में रिसर्च करना जरुरी होता है। तभी आप अपने ब्लॉग के लिए एक खास टॉपिक का निर्धारण कर सकते हैं।

सबसे पहले अपने Blog के रीडर और विज़िटर्स के बारे में जानना आवश्यक होता है। कौन से लोग आपके ब्लॉग को पढ़ना चाहते हैं, उनकी जरूरतें क्या हैं?, उनकी हितों और चिंताओं के बारे में जान लें, क्योंकि इससे आपको अपने ब्लॉग के लिए एक अच्छा टॉपिक चुनने में मदद मिलता है।

Blog तो कोई भी बना लेता है पर अपने blog से हर कोई पैसा नहीं कमा पाता है। इसका कारण यही होता है कि वो ऐसे टॉपिक को चुनते हैं जिसपर पहले से हीं ज्यादा blog मौजूद होते हैं, और उस टॉपिक के बारे में उन्हें ज्यादा नॉलेज नहीं होती है। इसलिए अपने blog के लिए एक यूनिक टॉपिक चुनने के साथ हीं साथ उसमें रूचि और बिस्तृत जानकारी होनी भी जरुरी होती है।

05. पोस्ट के क्वालिटी और कॉन्टेंट पर ज्यादा ध्यान देना।

अधिकतर नए Blogger ये सोचते हैं कि अपने Blog पर जल्दी – जल्दी ज्यादा पोस्ट बढ़ा देने से ज्यादा ट्रैफिक बढ़ जाएगी और blog से पैसा आने लगेगा। पर आपको ये जानना चाहिए कि ऐसे ट्रैफिक केवल एक बार के लिए होगी, इसके बाद ये ट्रैफिक फिर कभी नहीं आएगी। क्योंकि ऐसे पोस्ट उनके लिए सूचनाप्रद नहीं होती है, आपने जल्दी – जल्दी पोस्ट बढ़ाने के चक्कर में क्वालिटी पर ध्यान नहीं दिया है।

इसलिए Blog suru karne से पहले हीं यदि आप quality content लिखने के बारे में जान लेते हैं, तो यह आपको blogging में success दिलाने में काफी मदद करता है।

“Content is King” क्यों कहा गया है? ये आपको जानना चाहिए। ज्यादा पोस्ट लिखकर ट्रैफिक तो बढ़ा सकते हैं, पर फिर भी आपको पोस्ट की क्वालिटी पर ज्यादा ध्यान देना चाहिए।

क्योंकि यदि आपके blog रीडर को आपके पोस्ट से महत्वपूर्ण जानकारी मिलती है, तो वे आपके blog को सब्सक्राइब कर लेंगे और आपके नियमित रीडर बन जाएँगे। पर यदि आप एक casual और unattractive पोस्ट लिखते हैं, तो कोई भी आपके blog को पसंद नहीं करेगा।

06. CSS और HTML के बारे में बेसिक नॉलेज। 

अभी blogging प्लेटफार्म बहुत effective हो गए हैं, जहाँ कोडिंग नॉलेज की जरुरत बहुत कम रह गई है। किसी भी प्रीमियम थीम और प्लगइन को बिना कोडिंग नॉलेज के भी कस्टमाइज किया जा सकता है।

इसलिए यदि आप एक प्रोफेशनल Blogger बनना चाहते हैं, तो Blog suru karne से पहले HTML और CSS के बारे में बेसिक नॉलेज ले लेना चाहिए। यदि इन कोडिंग के बारे में आप पहले जान लेते हैं, तो आप अपने अनुसार blog के किसी भी थीम को कस्टमाइज कर सकते हैं। आपके blog में किसी प्रकार का एरर आने पर उसे खुद ठीक कर सकते हैं।

इस कोडिंग नॉलेज को आप फ्री में बढ़ा सकते हैं। बहुत से ऐसे फ्री साइट हैं, जहाँ आप ऑनलाइन HTML और CSS के बारे में सिख सकते हैं जैसे, w3schools.comshayhowe.com,  Codecademy.com,आदि।

07. बेसिक SEO के बारे में जाने। 

किसी भी Blogger के लिए सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन के बारे में बेसिक नॉलेज रखना बहुत जरुरी होता है। क्योंकि इसी नॉलेज के द्वारा आप अपनी साइट पर आर्गेनिक ट्रैफिक बढ़ा सकते हैं।

SEO बहुत difficult है, परन्तु इसके बारे में बेसिक नॉलेज रखकर भी आप अपने Blog को सर्च इंजन में बेहतर रैंक करा सकते हैं। सर्च इंजन से ट्रैफिक आना किसी भी बिज़नेस के बड़ा होने का मूल कारण होता है।

  1. सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन क्या है? किसी वेबसाइट और ब्लॉग के लिए क्यों जरुरी है?
  2. On Page SEO क्या है? सर्च इंजन में रैंकिंग के लिए 10 जरुरी सुझाव।
  3. Off Page SEO क्या है? 16 बेहतरीन सुझवों से वेबसाइट की रैंकिंग सुधारें।
  4. ब्लॉग और वेबसाइट की ट्रैफिक बढ़ाकर पैसा कैसे कमाएँ?
  5. SEO friendly ब्लॉग पोस्ट कैसे लिखें ? – आपकी हिन्दी के 12 श्रेष्ट सलाह।

आप मेरे Blog के SEO और कॉन्टेंट SEO केटेगरी के पोस्ट को देख सकते हैं, जहाँ कुछ बेसिक इन्फॉर्मेशन दिए गए है। जो आपको बेसिक SEO को समझने में मदद करेंगे। MOZ वेबसाइट पर भी SEO के बारे में बहुत अच्छा कॉन्टेंट लिखा गया है, जहाँ से आप उनके beginners guide SEO के बारे में नॉलेज ले सकते हैं।

08. सोशल मीडिया का इस्तेमाल करें। 

अभी सोशल मीडिया किसी भी चीज के प्रचार में बहुत बड़ा रोल प्ले कर रहे हैं। एक नए Blogger का पोस्ट सर्च रिजल्ट में आने में टाइम लगता है। यदि वह एक अच्छा पोस्ट लिखकर इंतजार करता रहे कि लोग उसके पोस्ट को पढ़ेंगे, तो शुरू में ऐसा होना मुश्किल होता है। शुरू में लोगों को सर्च इंजन में आपका पोस्ट खोजना मुश्किल हो सकता है।

इसलिए एक नए Blogger को Blog suru karne से पहले सोशल मीडिया के importance को भी समझना चाहिए। उसे केवल सर्च इंजन के भरोसे नहीं बैठना चाहिए। अपने नए और पुराने पोस्ट को फेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम जैसे बड़े सोसाइल मीडिया पर प्रमोट करते रहना चाहिए।

इससे लोग आपके blog और पोस्ट के बारे में अच्छी तरह से जान पाएंगे। आप अपने एक हीं पोस्ट को जीतनी बार चाहे प्रमोट कर सकते हैं, इसमें कोई दिक्कत नहीं है। लोगों को पता नहीं होता है कि आपने इस पोस्ट को पहले भी प्रमोट किया है।

अतः स्पष्ट रूप से कहा जा सकता है कि एक नए ब्लॉगर के लिए अपने ब्लॉग पर ज्यादा ट्रैफिक लाने में सोशल मीडिया बहुत सहायक होते हैं।

09. दूसरे ब्लॉगर की आर्टिकल और कॉन्टेंट की चोरी न करें और कॉपीराइट के बारे में जाने।

Blog suru karne से पहले Blog चोर होने से बचिए।

अगर किसी दूसरे ब्लॉगर या वेबसाइट की कॉन्टेंट को चोरी कर आप अपने ब्लॉग पर लिखते है, तो आप सावधान हो जाइए। जल्द हीं आपका ब्लॉग सर्च रिजल्ट में आना बंद हो जाएगा। क्योंकि दुनिया के सबसे बड़ा सर्च इंजन गूगल आपके ब्लॉग को जोरदार थप्पड़ मार देगा, जिससे आपका ब्लॉग सर्च इंजन में कभी दिखेगा हीं नहीं।

आप सोचते रहेंगे कि ब्लॉग पर ट्रैफिक क्यों कम हो रही है, ब्लॉग सर्च रिजल्ट में क्यों नहीं आ रहा है। पर यह गूगल के पेनलाइज के कारण होता है। इसलिए भूलकर भी दूसरे की कॉन्टेंट कॉपी और चोरी न करें।

इसके साथ हीं साथ कोई दूसरा आपके Blog की कॉन्टेंट, फोटो, इन्फोग्रेफिक जैसी चीजें चोरी न करे, इसलिए आप भी अपने Blog पर Copyright P Policy, Privacy Policy, Terms and Conditions, Comments Policy लिखकर अपने Blog पर इस्तेमाल कर सकते हैं।

Blog suru karne से पहले आपको सीखना चाहिए कि कोई आपके Blog की आर्टिकल या फोटो आदि की चोरी न करे। साथ हीं आपको अनजाने में  कॉन्टेंट चोर होने से बचने के लिए भी खुद को प्रशिक्षित करना चाहिए।”

वर्डप्रेस ने बतया है कि कैसे आप आपने ब्लॉग की कॉन्टेंट चोरी होने से बचा सकते हैं, “Prevent Content Theft

10. Blog का डिज़ाइन साफ़ सुथरी और अच्छा होना चाहिए।

“जो दिखने में अच्छा नहीं, वो खाने में भी अच्छा नहीं”, ये आप ने शायद सुनी होगी। क्या आप किसी ऐसे दुकान में जाना पसंद करेंगे जहाँ मैले-कुचैले और साफ़-सफाई का बिशेष ध्यान नहीं रखा जाता है, तो ज्यादातर जबाब मिलेगा नहीं। भले हीं उसके पास बेहतर और असली सामान क्यों न हो। जो बाहर से दिखने में अच्छा नहीं होता है ऐसे सामान को अधिकतर हम खरीदने से बचते हैं।

इसी तरह एक Blog को भी साफ-सुथरी, यूजर फ्रेंडली और रीडएबल होना चाहिए। यदि आपका blog आकर्षक और पढ़ने योग्य नहीं है, तो कोई भी रीडर आपके blog को नहीं पढ़ेगा। उसके लिए आपका ब्लॉग फर्स्ट इप्रेशन हीं लास्ट इम्प्रैशन बन जाएगा।

इसलिए Blog suru karne से पहले कोशिश कीजिए अपने ब्लॉग को क्लियर और आकर्षक बनाने की, वाइट बैकग्राउंड और ब्लैक टेक्स्ट का इस्तेमाल करते हुए साफ़-साफ लिखने की, जिससे किसी भी रीडर जो blog का टेक्स्ट पढ़ने में असुविधा न हो।

स्मार्ट इनसाइट्स के एक रिसर्च में पता चला है कि लोग अपना अधिकतर समय मोबाइल पर बिताते हैं। इसलिए अपने blog को मोबाइल फ्रेंडली जरूर बनाएँ। क्योंकि यदि आपका ब्लॉग मोबाइल और रीडर फ्रेंडली नहीं है, तो यह बिलकुल संभव है कि मोबाइल से आने वाले ट्रैफिक को आप गवां देंगे। इसलिए भले आपका ब्लॉग PC फ्रेंडली हो चाहे नहीं, पर मोबाइल फ्रेंडली जरूर होना चाहिए।

11. धैर्य रखना बहुत जरुरी।

कोई भी बिज़नेस को बड़ा होने में समय लगता है। बात जब Blogger की आती है, तो शुरू में आप चाहे जितना भी क्वालिटी पोस्ट क्यों न लिखे, साइट को रैंक होने में थोड़ा समय लग सकता है, अच्छी ट्रैफिक आने में समय लगता है। इसलिए आपको धैर्य रख कर क्वालिटी पोस्ट लिखते जाना चाहिए और अपने blog के कॉन्टेंट को बढ़ाते रहना चाहिए।

अधिकतर नए Blogger blog suru karne के 6 महीने के अंदर हीं blogging छोड़ देते हैं। क्योंकि ऐसे ब्लॉगर ये सोच कर blogging में आते हैं कि blogging से जल्दी पैसा आने लगेगा और जल्दी अमीर बन जाएँगे। पर जब मेहनत लगती है और जल्दी पैसा भी नहीं आता है, तो blogging से उनका मोह छूटने लगता है। एक कहावत सुनी होगी आपने, “जल्दी का काम शैतान का होता है”। इसलिए हर कुछ अच्छा होने में समय तो लगता है।

दुनिया के सबसे अमीर व्यक्तियों में शामिल वारेन बुफेट के बारे में शायद आप जानते हीं होंगे, जिन्होंने कहा है कि “एक साथ 9 औरतों को प्रेगनेंट करके भी 9 महीने में बच्चा पैदा नहीं किया जा सकता।” इसलिए जीवन में कुछ ऐसे रास्ते होते हैं, जिनपर चलते हुए बहुत धैर्य रखने की आवश्यकता पड़ती है। तभी हम अपने जीवन में सफल हो सकते हैं।

जिसमें धैर्य नहीं होता है, वह किसी भी चीज को ठीक से नहीं कर सकता है। Blogging से पैसा कमाना सबसे मुश्किल कामों में से एक होता है। इसलिए आपने सोचा है blogging में कैरियर बनाने का, तो आपको बहुत धैर्य रखना चाहिए।

इसके साथ हीं साथ हीं साथ एक ब्लॉगर के तौर पर Blog suru karne से पहले निचे बताए गए कुछ विशेष बातों में बारे में जरूर ध्यान रखना चाहिए : –

  1. Blog suru karne से पहले एक अच्छा डोमेन का नाम चुनिए। पर इस बात का ध्यान रखिए कि आपका डोमेन किसी दूसरे से मिलता-जुलता न हो। जैसे justbrightme.com की जगह firstbrightme.com नहीं होना चाहिए। क्योंकि दूसरे के नाम से मिलता-जुलता डोमेन खरीद कर बड़ा ब्रैन्ड नहीं बना सकते हैं। इसलिए आपका डोमेन यूनिक होना चाहिए।
  2. एक प्रोफेशनल ब्लॉगर के तौर पर आपको हमेशा fast होस्टिंग सर्विस खरीदना चाहिए। क्योंकि ऐसे होस्टिंग आपके Blog की रैंकिंग सुधारने में सराहनीय योगदान करते हैं।
  3. वर्डप्रेस blog के लिए बहुत फ्री थीम मिल जाएँगे, पर फ्री थीम में इनके पुरे फीचर को यूज़ नहीं कर पाएँगे। इसलिए आपको हमेशा प्रीमियम थीम को ज्यादा प्राथमिकता देना चाहिए। क्योंकि एक अच्छा प्रीमियम थीम साइट के लोडिंग स्पीड को बेहतर कर देता है।
  4. अपने ब्लॉग को हैकर्स से बचने के लिए सिक्योरिटी प्लगइन का जरूर इस्तेमाल करना चाहिए। क्योंकि ऐसे प्लगइन हैकिंग के प्रयसों को रोकने में मदद करते हैं।
  5. साइट के फास्ट लोडिंग के लिए अच्छे कैश प्लगइन का इस्तेमाल करें, ऐसे प्लगइन साइट के लोडिंग टाइम को कम कर देते हैं।
  6. अपने साइट में जितना हो सके प्लगइन को कम रखें, क्योंकि ज्यादा प्लगइन साइट के स्पीड को प्रभावित करते हैं।

1 thought on “Blog शुरू करने और Blogger बनने से पहले जाने 11 जरुरी बातें।”

Leave a Comment